ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
तुम्हारी फाइलों में गांव का मौसम गुलाबी है. मगर यह आंकड़े झूठे दावा किताबी है।
October 4, 2019 • डेस्क

 हरदोई में नवरात्रों में पुलिसकर्मी की अनोखी मां की सेवा, बेसहारा बुजुर्ग महिला की पुलिसकर्मी ने मदद कर पेश की मिसालह.हरदोई में पुलिसकर्मी ने पेश की इंसानियत की अनोखी मिसाल।नवरात्र में बुजुर्ग असहाय महिला की घर पहुंचकर की आर्थिक मदद।असहाय वृद्ध महिला के दो बेटों और पति की हो चुकी है मौत।बारिश के थपेड़ों से पीड़ित बुजुर्ग महिला का मकान भी गिर गया।

बुजुर्ग पीड़िता के परिवार के नाम पर 2 पौत्र में एक है मंदबुद्धि।सोशल मीडिया पर जानकारी के बाद पुलिसकर्मी ने की मदद.

०० उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में सोशल मीडिया पर एक बुजुर्ग महिला की पीड़ा को देखकर हरदोई के एक नेक दिल पुलिसकर्मी ने असहाय बेसहारा महिला की मदद को हाथ बढ़ाएं हैं और उसके घर जाकर उसे आर्थिक मदद देकर उसे आगे भी मदद देने का आश्वासन दिया है। 

०० तस्वीरों में यह सवायजपुर चौकी इंचार्ज राहुल सिसोदिया है जो अपनी शैली के अनुसार नवरात्र के दिनों में असली मां की पूजा कर रहे हैं बताते चलें यह गिरा हुआ जर्जर मकान माधौगंज थाना क्षेत्र के गांव समुखा निवासी रामवती का है रामवती की कहानी बेहद मार्मिक है इसके दो बेटों की असमय मृत्यु हो चुकी है पति 2 साल पहले गुजर गया था परिवार के नाम पर केवल दो पौत्र हैं जिसमें एक मंदबुद्धि है अब घर की स्थिति यह है कि बुजुर्ग महिला को 2 जून की रोटी मिलना मुश्किल हो रहा है कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर किसी ने एक पोस्ट साझा की थी जिसे पढ़ने के बाद हरदोई के सवायजपुर चौकी इंचार्ज राहुल सिसोदिया ने नेकी की मिसाल पेश की है उन्होंने आज उसके घर पहुंच कर उसे आर्थिक मदद की है साथ ही उसे खाने पीने पहनने के लिए कई चीजें दी है जिससे उसे करीब 6 महीने तक किसी भी तरीके की दिक्कत नहीं होगी बताते चलें राहुल सिसोदिया इससे पहले भी कई पीड़ित और वंचित लोगों की मदद करते आए हैं खाकी वर्दी में धड़कने वाला दिल सच में नेक है और शायद यही मित्र पुलिस की असली पहचान भी है। 

०००तुम्हारी फाइलों में गांव का मौसम गुलाबी है मगर यह आंकड़े झूठे दावा किताबी है कुछ इसी तर्ज पर वृद्ध रामवती की कहानी है बस आंख में पानी है और हाथ खाली हैं सरकार सत्ता शासन प्रशासन इस गांव में झूठे और बौने नजर आते हैं तमाम सरकार की नीतियां यहां से नजर आती हैं कारण प्रधान से प्रधानमंत्री का जो सपना मोदी ने देखा है वह यहां पर फेल है इसीलिए शायद अभी तक रामवती को उसका हक नहीं मिला है प्रशासन को चाहिए की रामवती को भी शासन द्वारा प्रस्तावित सभी सुविधाएं दी जाएं जिससे योगी सरकार का रामराज्य का सपना साकार हो सके ।