ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
महिला सिपाही ने खुद रचा था लूट व फायरिंग का नाटक, गई जेल
September 26, 2019 • क्राइम डेस्क

महिला कांस्टेबल को गोली मारकर हुई लूट की घटना का खुलासा, स्वयं महिला कांस्टेबल सहित उक्त घटना का षडयंत्र तैयार करने वाले 02 आरोपी गिरफ्तार, घटना मे लूटी हुई स्कूटी, मोबाईल फोन व प्रयुक्त अवैध एक तमंचा मय 02 जिंदा कारतूस बरामद।
=====================
घटना का संक्षिप्त विवरण:-दिनांक 16.09.19 को थाना कोतवाली बागपत पर वादीयां श्रीमति रेनू (महिला कांस्टेबल तैनाती गाजियाबाद) पुत्री जयपाल निवासी ग्राम ताना गढीपुख्ता जनपद शामली ने लिखित सूचना दी कि सायं 04:00 बजे जनपद गाजियाबाद से अपने बीमार ससुर तेजपाल का हाल पूछने व ईलाज के लिये 02 लाख रूपये अपनी स्कूटी की डिग्गी में रखकर अपने ससुराल ग्राम लुहारी थाना बडौत जनपद बागपत आ रही थी कि रास्ते में समय करीब सायं 07:00 बजे जंगल ग्राम नैथला पुलिया के पास मोटर साईकिल पल्सर सवार 02 लडको ने पीछे से आकर स्कूटी रूकवाकर मोबाईल फोन, स्कूटी व उसमे रखे 02 लाख रूपये छीन लिये एवं जान से मारने की नियत से गोली मारकर घायल कर दिया है। इस सम्बन्ध मे थाना कोतवाली बागपत पर मु0अ0सं0 768/19 धारा 498ए, 323, 506, 394, 307 भादवि व 3/4 दहेज अधि0 बनाम 1-अनुज कुमार (पति) पुत्र तेजपाल सिंह 2-कुसुम (सास) पत्नी तेजपाल सिंह 3-अर्जुन (देवर) पुत्र तेजपाल 4-अन्जू (नन्द) पुत्री तेजपाल 5-सोनू समस्त निवासी गण-ग्राम लुहारी थाना बडौत जनपद बागपत व 6-मोटरसाईकिल प्लसर सवार दो लडके नाम पता अज्ञात के विरूद्व पंजीकृत किया गया।
               पुलिस अधीक्षक बागपत के निर्देशन में उक्त घटना के अनावरण एवं अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु की गयी थाना कोतवाली बागपत पुलिस व सर्विलांस टीम द्वारा प्रभावी विवेचना में उपलब्ध साक्ष्यो के आधार पर आज दिनांक 26.09.19 को घटना में संलिप्त अभियुक्ता 1- श्रीमति रेनू (महिला कांस्टेबल तैनाती गाजियाबाद) पुत्री जयपाल निवासी ग्राम ताना गढीपुख्ता जनपद शामली 2-मोनू उर्फ मनीष पुत्र भीम सिंह 3-विकास पुत्र सुरेन्द्र उर्फ कालू निवासी गण ग्राम लुहारी थाना बडौत जनपद बागपत को गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्त मोनू की निशादेही पर जंगल ग्राम जागौस से घटना मे लूटी गयी स्कूटी (जली हुई) व प्रयुक्त एक तमंचा मय 02 जिंदा कारतूस व अभियुक्त विकास के कब्जे से लूटा हुआ मोबाईल फोन बरामद किया है। विवेचना से मुकदमा उपरोक्त में नामित सभी पांच आरोपियों की नामजदगी गलत पायी गयी है।
*पूछताछ का विवरणः-*
​गिरफ्तार अभियुक्त मोनू व महिला कांस्टेबल रेनू काफी समय से दोस्त है। गिरफ्तार अभियुक्तों ने बताया कि उपरोक्त घटना के सम्बन्ध में महिला कांस्टेबल रेनू ने षडयंत्र रचकर ससुराली जनो के व्यवहार से परेशान होकर उनको झूठे मुकदमे मे फसाने के उददेष्य से उससे व विकास से गोली लगवाकर अपने साथ लूट की झूठी योजना बनाकर उक्त घटना को अंजाम दिया, और झूठा मुकदमा ससुराली जनो के विरूद्व पंजीकृत कराया। अभियुक्त मोनू और विकास ने योजनानुसार महिला कांस्टेबल रेनू के कहने पर जंगल ग्राम लुहारी मे उसकी बाजू मे गोली मारकर वहां से घायल रेनू को विकास द्वारा मो0सा0 पर बैठाकर जंगल ग्राम नैथला पुलिया के पास घटना स्थल पर लाये और मोनू, रेनू की स्कूटी लेकर जंगल ग्राम जागौस की तरफ चला गया और वहां सुनसान पडे एक गन्ने के कोल्हू के पास स्कूटी खडी करके उसको आग लगा दी। और योजना के अनुसार महिला कांस्टेबल रेनू के द्वारा घटना की सूचना पुलिस व अन्य को दी गयी।
अभियुक्तों का नाम व पता:-
1-श्रीमति रेनू (महिला कांस्टेबल तैनाती गाजियाबाद) पुत्री जयपाल निवासी ग्राम ताना गढीपुख्ता जनपद शामली।
2-मोनू उर्फ मनीष पुत्र भीम सिंह ग्राम लुहारी थाना बडौत जनपद बागपत।
3-विकास पुत्र सुरेन्द्र उर्फ कालू ग्राम लुहारी थाना बडौत जनपद बागपत।
*बरामदगी:-*
1-लूटी गयी स्कूटी (जली हुई)।
2-लूटा गया मोबाईल फोन।    
3-घटना मे प्रयुक्त एक तमंचा 315 बोर मय 02 जिंदा कारतूस