ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
मोदी की योजनाओं को पलीता लगा रहे प्रधान
September 28, 2019 • शादाब अली

 उन्नाव जिले में कुछ प्रधान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजनाओं को पलीता लगा रहे हैं आखिर कब मिलेगा ऐसे प्रधानों से छुटकारा जो आए दिन मिलकर लोगों का शोषण कर रहे है।

भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी  की केंद्र सरकार की मंशा  हर कच्चे मकान को पक्की छत देने की कोशिश कर रही है । लेकिन उनकी ऐसी कोशिशों पर पलीता लगता नजर आ रहा है।गरीब लाभ पाने को तरस रहे हैं वहीं प्रधानों के चहेते एवं गरीबी रेखा से ऊपर जीवन यापन करने वाले सेटिंग गेटिंग करके वास्तविक लाभार्थियों हर गाँव मे प्रधान व सीडीओ सेक्रेटरी की मिलीभगत से बेचारी गरीब का हक छीन रहे हैं..
 

गरीब बेचारे अपनी समस्या प्रधान तक ही कहकर सीमित रह जाते हैं।उन्नाव जिले में सिर्फ़ प्रधानों का विकास और उनकी छतें पक्की हो रही हैं और योजनाओं का लाभ गरीबों तक नहीं पहुंच पा रहा है । ऐसा ही एक दर्दनाक मामला फतेहपुर चौरासी ब्लाक के अंतर्गत ग्राम पंचायत रज्जाकपुर से सामने आया है । जहाँ गांव के ही रहने वाले रामप्रसाद के ऊपर शुक्रवार दोपहर को कई दिनों से लगातार हो रही बारिश से कल लगभग 2:00 बजे भारी बारिश के दौरान कच्ची कोठरी गिर गई । हालाँकि वहाँ मौजूद लोगों ने उन्हें मलबे से फावड़े की सहायता से मरणाशन्न अवस्था में निकालकर एम्बूलेंस की मदद से अस्पताल पहुंचाया।जहां डाक्टरों की मदद से उन्हें बचा लिया गया । पीड़ित रामप्रसाद से बात की गयी तो बताया कि मैंने कई बार प्रधान से अपने आवास के बारे में कहा ब्लाक के अधिकारियों द्वारा कई बार सत्यापन भी हुआ।लेकिन आज तक कोई आवास जैसी सुविधा हमें नहीं मिली । जिसका खामियाजा हमें दीवार के नीचे दबकर भुगतना पड़ा । वहीं प्रत्यक्षदर्शी संजय, पंकज, प्रमोद, रमेश, मनीष, शिवकांत आदि ने बताया कि अगर सब लोग समय पे नहीं होते तो एक बड़ी घटना घट सकती थी। आपको बता दें कि रामप्रसाद एक गरीब किसान हैं जिनके पास नाम मात्र केवल 8 बिस्वा जमीन है जिसमें उनका एक साल तक खाने के लिए अनाज तक नहीं हो पाता है वहीं इनके एक बेटी है जिसका नाम बदामा है तथा इनकी पत्नी बीमार रहती हैं ।

*L