ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
बड़े पैमाने पर कोरोना वायरस को देखते हुए लोगों के स्वास्थ्य की जाँच का काम शुरू
April 19, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • राज्य

बुलंदशहर (शब्बीर अहमद): जिले में बड़े पैमाने पर कोरोना वायरस को देखते हुए लोगों के स्वास्थ्य की जाँच का काम शुरू हो गया है। इस जाँच में जनपद की 200 एएनएम को लगाया गया है। हर एक एएनएम के पास थर्मल स्कैनर होगा। प्रत्येक टीम में सात सदस्य होंगे इस हिसाब से 40 सर्विलांस टीम तैयार की गयी है। इसके अलावा 26 आरबीएसके टीमें भी तैयार की गयी हैं। इन टीमों में तीन सदस्यों को शामिल किया गया है। जिला प्रशासन की तरफ से रविवार को 50 एएनएम, 26 आरबीएसके टीमों को सौ थर्मल स्कैनर दिए गए तथा टीमों से अपेक्षा की गयी है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन व खुद का बचाव करते हुए सुरक्षित तरीके से लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करने का प्रशिक्षण दिया गया। जिले में तीन प्रकार की टीम काम कर रही हैं जो जिले के अलग अलग हिस्सों को कवर करेंगी। सर्विलांस टीम नगरीय क्षेत्र हॉटस्पॉट के नजदीकी क्षेत्र को कवर करेगी, एएनएम जिले के ग्रामीण क्षेत्र को कवर करेगी । इसके अलावा छब्बीस आरबीएसके टीमें भी गठित की गयी है। हर टीम के पास एक एक वाहन है तथा प्रत्येक टीम को एक एक थाना क्षेत्र आवंटित किया गया है। ये टीमें थानावार फोन पर क्रियाशील रहेंगी और प्रतिदिन सामने आने वाले कोरोना संदिग्धों व लक्षणों के बारे में कण्ट्रोल रूम, तहसील कार्यालय, जिलाधिकारी, एसएसपी, थाना अथवा मुख्यमंत्री हेल्पलाइन इत्यादि पर मिलने वाली शिकायतों/कॉल्स को कवर करेंगी। जिले में प्रतिदिन 25-50 हजार लोगों की जाँच का लक्ष्य रखा गया है। सबसे पहले जिले में हॉटस्पॉट क्षेत्र, कंटेन्मेंट जॉन, मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों को प्राथमिकता पर रखा है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के माध्यम से हर गांव में दो-दो स्वयंसेवी शिक्षक चिन्हित किए गए हैं। जिनके माध्यम से स्थानीय सूचना के आधार पर कोरोना संदिग्ध लोगों को चिन्हित किया जा रहा है। जिला कार्यक्रम अधिकारी के माध्यम से आंगनबाड़ी कार्यकत्री के द्वारा गाँव गाँव में कोरोना संदिग्धों को चिन्हित किया जा रहा है।