ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
बैंको पर भीड़ कम करने को पंजाब नेशनल बैंक की मीरापुर शाखा ने निकाला सहज तरीका
May 2, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • मुज़फ्फरनगर


खाता धारकों के खाते की अंतिम संख्या के हिसाब से किया जाएगा भुगतान

नईम चौधरी

मीरापुर।  कोरोना महामारी को लेकर प्रधानमंत्री द्वारा जनधन खातों में डाली जा रही रकम के भुगतान को लेने के लिए बैंकों पर उमड़ने वाली भीड़ से निजात के लिए तथा सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने के लिए मीरापुर की पंजाब नेशनल बैंक शाखा ने सहज तरीका निकालते हुए जनधन खातों की दूसरी किश्त के भुगतान को खाता धारकों के खाते की अंतिम संख्या के हिसाब से अलग अलग दिन भुगतान करने का निर्णय लिया है।अंतिम अंको के हिसाब से किस दिन किसको भुगतान मिलेगा इसकी लिस्ट शाखा पर लगा दी गयी है।
कोरोना वायरस के चलते देश मे आये आर्थिक संकट के कारण आम आदमी को आर्थिक तंगी से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूरे देश मे जनधन खाता धारक महिलाओं के खाते में पांच सौ-पांच सौ रुपये व मजदूर वर्ग के पुरुषों के खाते में 1000 रुपये प्रति माह डालने की घोषणा की थी।जिसकी पहली किश्त मार्च में पात्र महिलाओं व पुरुषों के खाते में पहुँच भी चुकी है।किन्तु इन 500-1000 रुपयों को लेने की होड़ में बैंको पर महिलाओं व पुरुषों की भारी भीड़ जमा हो जाती है।और इस दौरान सोशल डिस्टेसिंग की जमकर धज्जिया उड़ती साफ दिखाई देती है।पुलिस व बैंककर्मियों के समझाने पर भी भीड़ सोशल डिस्टेसिंग की धज्जियाँ उड़ाती रहती है।जिससे बैंक कर्मियों को भी भारी समस्या का सामना करना पड़ता है।इस समस्या से निजात पाने के लिए मीरापुर की पंजाब नेशनल बैंक शाखा ने सहज तरीका ढूँढ लिया।शाखा के कार्यकारी प्रबन्धक महिपाल सिंह ने शाखा पर लगने वाली भीड़ पर नियंत्रण करने के लिए ग्राहकों को उनके खाते की अंतिम संख्या के हिसाब से अलग अलग दिन भुगतान का निर्णय लिया है।जिसके अंतर्गत सोमवार को उन महिलाओं का भुगतान किया जाएगा जिनके खाते की अंतिम संख्या में 0 व 1 आता है।मंगलवार को 2 व 3 अंको वाले खाताधारकों को भुगतान किया जाएगा।इसी प्रकार सभी खाताधारकों को उनके अंतिम अंक के हिसाब से अलग अलग दिन भुगतान किया जाएगा।बैंक ने संख्या के हिसाब से भुगतान किए जाने वाले दिन की सूची बैंक के मुख्य गेट पर लगा दी है।जिससे किसी को भी असुविधा न हो।बैंक की इस पहल की स्थानीय लोगों के साथ साथ पुलिस ने भी प्रशंसा की है।इससे अब बैंको पर उमड़ने वाली भारी भीड़ से निजात मिलने की उम्मीद है।