ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
बैंकों पर उमड़ रही भीड़ लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ा रही है धज्जियां
April 16, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • मुज़फ्फरनगर


नईम चौधरी
मीरापुर। केन्द्र सरकार की जनधन खाता के पात्रों की बैंकों  पर लगातार भीड़ उमड़ रही है।महिलायें व पुरुष
 पूरी तरह लॉक डाउन को ध्वस्त करने के साथ साथ सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियाँ उड़ा रहे है।बैंक कर्मियों व पुलिस के समझाने के बावजूद जल्दी नम्बर लगवाने के चक्कर मे भीड़ में शामिल लोग धक्का-मुक्की करते दिखाई देते है।भीड़ के कारण कोरोना संक्रमण का खतरा भी बढ़ रहा है।
कोरोना वायरस के कारण लागू किये गए लॉक डाउन में सरकार ने गरीब व मजदूर वर्ग की महिलाओं के जनधन खाते में  500 रुपये डालने की घोषणा की थी ताकि लॉक डाउन में कोई भी भूखा न रह सके।केन्द्र सरकार ने योजना को प्रदेश सरकार के माध्यम से लागू कर दिया।तथा लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखने की अपील की थी।किन्तु दिन निकलते ही बैंकों के खुलने से पूर्व ही यहाँ लोगों की भारी भीड़ उमड़ पड़ती है।मीरापुर की स्टेट बैंक शाखा,पंजाब नेशनल बैंक की मीरापुर व कैथोड़ा शाखा के बाहर सवेरा से ही लम्बी लम्बी लाईन लग  जाती है।इस दौरान बैंककर्मी व पुलिस लाईन में महिलाओं व पुरुषों से सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए एक दूसरे के बीच कम से कम एक मीटर की दूरी बनाने को अपील करते नजर आते है।किन्तु अत्यधिक भीड़ होने के कारण भीड़ में शामिल लोग पहले नम्बर लगवाने के लिए एक दूसरे से धक्का-मुक्की करते हुए लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियाँ उड़ाते साफ नजर आते है।बैंकों पर लगातार बढ़ रही भीड़ एक तरफ जहाँ लॉक डाउन को मजाक साबित कर रही है।वही दूसरी तरफ एक साथ इतनी भीड़ जमा रहने तथा धक्का-मुक्की से कोरोना संक्रमण के फैलने की आशंका से भी इन्कार नही किया जा सकता है।फिलहाल इस मामले में भीड़ पर नियंत्रण अति आवश्यक है।नही तो कोरोना के मामले बढ़ने से इन्कार नही किया जा सकता।

 


 सम्भालेहड़ा में राशन की लाईन में लगे युवकों के बीच मारपीट से भगदड़ मची.राशन वितरण में उड़ाई जा रही है लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियाँ।
*नईम चौधरी*
*मीरापुर।* कोरोना के चलते लॉक डाउन में सरकार द्वारा गरीबों को दिए जाने वाले फ्री चावल का वितरण शुरू होने के पहले दिन ही सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ गई। राशन डीलरों के यहाँ चावल लेने के लिए लोगों की भारी भीड़ जमा रही।इस दौरान राशन डीलरों के यहाँ सोशल डिस्टेंसिंग नही दिखाई पड़ी।सम्भालेहड़ा में पहले राशन लेने को लाईन में लगे युवकों के बीच मारपीट होने से भगदड़ मच गई।

  लॉक डाउन में गरीब, मजदूरों व जरूरत मन्द, व पंजीकृत श्रमिकों के लिए खाने के सामान की कोई समस्या ना हो इसलिए सरकार ने उन्हें तीन माह तक मुफ्त राशन देने की घोषणा की थी।बुधवार को घोषणा के अनुरूप फ्री चावल वितरण का कार्य शुरू हुआ। चावल वितरण के दौरान राशन डीलरों को सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखने के निर्देश प्रशासन द्वारा दिये गए थे।बुधवार को राशन डीलरों द्वारा प्रशासन द्वारा निर्देशित सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए सड़क पर एक एक मीटर की दूरी पर चूने से गोल घेरे बनाये गए।किन्तु फ्री चावल वितरण शुरू होने से पूर्व ही चावल लेने के लिए राशन डीलरों के यहाँ सुबह से ही भारी भीड़ जमा हो गई थी। तथा राशन लेने के लिए लाईन में लगे लोगों ने कुछ ही देर में सोशल डिस्टेंसिंग के आदेश को ताक पर रख दिया।तथा एक दूसरे को धक्कामुक्की शुरू कर दी।राशन पहले लेने के लिए लोगों में भारी आपाधापी मच गई।इस दौरान भीड़ से निपटने के लिए राशन डीलरों ने भी प्रशासन के निर्देश को ताक पर रखकर कार्य किया।इस दौरान धूप होने के कारण लोग घंटो से लाइन में लगे लोगों ने संयम खो दिया।ग्राम सभलेहड़ा में राशन की लाइन में लगे ग्रामीण  नदीम व
ताजिम के बीच मारपीट हो गई।जिसमें नदीम घायल हो गया घायल के चाचा निजामुद्दीन ने मीरापुर थाने में आरोपी के विरुद्ध तहरीर दी है।