ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
भाकियू की CM योगी को खुली चिट्टी, देखे क्या है खत का मज़मून
November 14, 2019 • TRUE स्टोरी टीम

माननीय,
श्री योगी आदित्यनाथ जी,
मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार, लखनऊ।

विषय- गन्ना पेराई सत्र 2019-20 हेतु गन्ने का राज्य परामर्शी मूल्य तय किए जाने हेतु।

आदरणीय योगी जी
अवगत कराना है कि पिछले दो सत्रों से गन्ना मूल्य में राज्य सरकार द्वारा कोई वृद्धि नहीं की गई है। गन्ने पर आने वाली लागत में काफी वृद्धि हुई है। किसानों की सिंचाई में प्रयोग होने वाली बिजली का मूल्य में दो गुना एवं खाद, डीजल, कीटनाशक आदि में लगभग 20 प्रतिशत से भी अधिक वृद्धि हुई है। जिससे गन्ना किसानों को लगातार नुकसान हो रहा है। 2016-17 से 2018-19 तक गन्ने की रिकवरी में 2 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। जिससे शुगर मिलों को प्रत्येक कुन्तल गन्ने पर लगभग 60 रुपये का लाभ हुआ है।
वर्तमान पेराई सत्र के आरम्भ होने के बावजूद भी गन्ना मूल्य की घोषणा नहीं की गई है। जिससे किसानों में भारी आक्रोश है। वर्तमान में गन्ना किसानों की उत्पादन लागत 300 रुपये प्रति कुन्तल से अधिक है। सरकार के वायदे के अनुसार गन्ना किसानों को स्वामीनाथन कमेटी के अनुसार लागत में 50 प्रतिशत जोडकर गन्ना मूल्य की घोषणा की जानी आवश्यक है।
भारतीय किसान यूनियन मांग करती है कि वर्तमान पेराई सत्र हेतु गन्ने का मूल्य 450 रुपये प्रति कुन्तल अविलम्ब घोषित किया जाए अन्यथा भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर 21 दिसम्बर को सभी किसान जिला मुख्यालयों पर इकट्ठा होकर हल क्रान्ति आन्दोलन की शुरूआत कर अपना विरोध दर्ज कराएंगें।
भवदीय

चौ0 राकेश टिकैत
   (राष्ट्रीय प्रवक्ता भाकियू)