ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत
भूमिका के सिर सज़ा मिस द्रोण का ताज
February 8, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • सरधना

 

(अहमद हुसैन)

 मिलना बिछड़ना, बिछड़ना और मिलना,माना जाता है कि यह प्रकृति का नियम है जो आज साथ है। वह कल कहां कितनी दूर चला जाए कुछ नहीं कहा जा सकता और जिंदगी के सफर में कहां मिल जाए कहां खो जाए कहना मुश्किल है। कई वर्षों तक। एक ही शिक्षण संस्था में एक साथ रहकर। मिलजुल कर हंसी खुशी पढ़ते हैं।  और एक लम्हा ऐसा आता है। जब सभी सहपाठियों से बिछड़ कर कहीं दूर दूर चले जाते हैं।
ऐसा ही क्षण आज सरधना के बिनोली रोड स्थित द्रोण पब्लिक स्कूल में देखने को मिला जब जूनियर छात्राओं से  सीनियर छात्राएं विदा लेती हुई नजर आई। अवसर था। ग्यारहवीं क्लास की छात्राओं द्वारा 12वीं क्लास पास आउट कर विदा होने वाली छात्राओं को विदाई देने का। जहां पढ़ाई पूरी कर जाने की खुशी भी थी और अपनों से बिछड़ने का दुख भी।
आज द्रोण पब्लिक स्कूल में कक्षा 12 के  छात्र-छात्राओं को कक्षा 11 के बच्चों ने नम आंखों से विदाई दी। विदाई के इस अवसर पर कक्षा 11 के  छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किए। तदोपरांत जूनियर छात्राओं ने। इंटर पास आउट कर जाने वाली सीनियर छात्राओं को। तिलक लगाकर तथा उपहार भेंट कर। उनको विदा करने ओकी रस्म अदा की
व जूनियर छात्राओं ने 12 के सीनियर छात्रों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए वही कक्षा 11 के बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से बताया गया की कैसे सीनियर जूनियर के लिए एक विशेष स्थान रखते हैं। जीवन में एक आदर्श का काम करते हैं वही छात्रों को अलग-अलग टैग देकर सम्मानित किया गय। जिसमे हेल्पिंग हैण्ड का टैग मौहम्मद सिराज, पर्वेश वर्मा को मिस्टर अथेलिटे,  पूर्णिमा फिटनेस्स फ्रीक मिस्टर साइंस रिया शर्मा मिस्टर द्रोण समीर, मिस्स  द्रोण भूमिका, फ़र्स्ट रणनरप हर्ष व अंजलि त्यागी रहे।  वही सभी बच्चों के लिए सभी अध्यापकों ने उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए उन्हें आशीर्वाद दिया। इस अवसर पर अरशद खान हिरदेश लाइव निशा त्यागी ललित शर्मा संदीप त्यागी सिया नंद पतंजलि सूरज आदि शिक्षक मौजूद रहे। 
------------
अहमद हुसैन
True स्टोरी