ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
इंसानियत की मिसाल पेश कर रहे हैं भाकियू के मांगेराम त्यागी
May 6, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • राज्य

 

शब्बीर अहमद सैफी (ब्यूरो चीफ)
मो. - 9084344766

बुलन्दशहर/बुगरासी (यतेंद्र त्यागी): वैश्विक महामारी कोरोना से जहाँ पूरा देश जंग लड़ रहा है। वहीं समाज में कुछ लोग अभी भी ऐसे हैं जो इंसानियत को जिन्दा रखने की मिसाल पेश कर रहे हैं। कवारेंटाइन किए गए मुस्लिम समुदाय के लोगों को रमजान के मुबारक माह में इफ्तार व खाना पहुँचा रहे हैं।
     भाकियू के मांगेराम त्यागी इस वैश्विक महामारी में भी इंसानियत को जिन्दा रखने के लिए कोई कोर कसर नही छोड़ रहे। त्यागी रोजाना रोजेदारों को इफ्तार व सहरी में लिए खाने का इंतजाम कर क़्वारेंटाइन सेंटर पहुँचा रहे है। बुगरासी के पूर्व चेयरमैन व समाजसेवी आफाक-उर-रहीम खान ने ट्रू स्टोरी को बताया कि कस्बे के लगभग 60-65 लोग स्याना में क़्वारें टाइन है। क़्वारेंटाइन में रहते हुए भी वह लोग रोजे रख रहे हैं और उनके इफ्तार व सहरी की जिम्मेदारी भाकियू के नेता मांगेराम त्यागी ने पूरी निष्ठा व लगन के साथ अपने कंधों पर उठा रखी है। जो कि स्वयं में आपसी भाईचारा व सौहार्द की अनूठी मिसाल है। 
      श्री खान ने मांगेराम त्यागी की शान में कसीदे पढ़ते हुए कहा कि इस रमज़ान के मुबारक महीने में जो व्यक्ति इस महामारी को भुला कर रोजेदारों का इतना ख्याल रख रहा है सही मायने में इसी का नाम इंसानियत है और इसका बदला अल्लाह तालाह खिदमत करने वाले को जरूर अता फरमाएंगे। उन्होंने लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की अपील करते हुए कहा है कि कोरोना वायरस के साथ हमे समाज में फैले नफरत के वायरस से भी लड़ना है।