ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
जिलाधिकारी अनिल ढींगरा की अध्यक्षता में चला कार्यक्रम
March 5, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • सरधना

अहमद हुसैन

सातवीं आर्थिक गणना के कार्यों की पुनः एक समीक्षा बैठक जनपद में संचालित कॉमन सर्विस केंद्र संचालको द्वारा  आयोजन कलेक्ट्रेट/विकास भवन सभागार में किया गया।  जिसकीअध्यक्षता जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने की। सातवीं आर्थिक गणना सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय द्वारा कराई जा रही है जिसके लिए मंत्रालय ने कार्यान्वयन एजेंसी के रूप में इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सीएससी ई- गवर्नैंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड के साथ साझेदारी की है। 7वीं आर्थिक गणना में आंकड़े जुटाने, उनके प्रमाणीकरण, रिपोर्ट तैयार करने और इनके प्रसार के लिए आईटी आधारित डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर मोबाईल App के माध्यम से किया जा रहा है।
आर्थिक गणना में परिवारों के उद्यमों, गैर-जोत कृषि और गैर-कृषि क्षेत्र में वस्तुओं/सेवाओं (स्वयं के उपभोग के अलावा) के उत्पादन एवं वितरण की गणना की जा रही है Iइस कार्य को संपन्न करने के लिए  कुल 380 सुपरवाइजरों व 2400 गणनाकारों की मदद ली जा रही है।  जिनको पूर्व में जिला स्तरीय/ब्लाक स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशालाये आयोजित कर सफल सातवीं आर्थिक गणना का कार्य करने हेतु प्रशिक्षित किया जा चुका है। जनपद में सातवीं आर्थिक गणना के सफल क्रियान्वयन के लिए जिलाधिकारी महोदय की अध्यक्षता में एक कमिटी का गठन किया गया है। जिला अर्थ एवं सांख्यिकी अधिकारी पंकज कुमार  को इस परियोजना का नोडल बनाया गया है। जिनकी देख रेख में यह कार्य किया जा रहा है।  
कार्यदायी संस्था सीएससी ई- गवर्नैंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड के राज्य स्तरीय प्रतिनिधि पीयूष कुमार जिला प्रबंधक स्वेत पँवार,सिद्धार्थ त्यागी, दीपक अग्रवाल एवं सुमित महल द्वारा आर्थिक गणना के कार्य की बारीकियों को बताते हुए कहा गया कि इसी गणना के आकड़ों के आधार पर ही सरकारो द्वारा जनोपयोगी योजनाओं को तैयार किया जाता है। अतः त्रुटि रहित सर्वे का होना अति आवश्यक है।  जिसके लिए तय मानकों के आधार पर ही सर्वे कार्य किया जाय। सीएससी द्वारा जिले में तीन जिला प्रबंधकों की नियुक्ति की गयी है जिनके द्वारा जनपद के सर्वे कार्यों की फील्ड स्तरीय गुणवत्ता को बनाये रखने हेतु लगातार समीक्षा / प्रशिक्षण का कार्य किया जा रहा है।अब तक कुल 82 ग्राम पंचायतों का सर्वे कार्य संपन्न किया जा चुका है उन्होंने शेष काम को भी दी गई समय सीमा 31 मार्च तक पूरा करने के निर्देश भी दिए I सर्वेक्षण का काम पर रहे सुपरवाइजर/प्रगणकों ने फील्ड में आ रही समस्याओं के बारे में अधिकारियो को बताया इस अवसर पर अंकुर सांगवान, अजब सिंह, मोहित गुप्ता,  अमित शर्मा, सोनू चौहान, विजय कुमार आदि वीएलई, सुपरवाइजर/प्रगणक मौजूद रहे I
-----
अहमद हुसैन
True स्टोरी