ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
जिले में मिले टीबी के 20 नये मरीज    
October 14, 2019 • TRUE स्टोरी टीम

टीबी रोगी खोज अभियान पर स्वास्थ्य विभाग ने कसी कमर

(Ravita)

मुजफ्फरनगर, 14 अक्टूबर 2019। जिले में स्वास्थ्य विभाग का टीबी रोगी खोज अभियान जोरों पर चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीमें टीबी मरीजों को खोजने और उनका पर्याप्त इलाज करने के लिए प्रयासरत हैं। इस अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग की ओर से करीब 3 लाख लोगों की जांच का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. लोकेश गुप्ता ने बताया स्वास्थ्य विभाग की तरफ से अब तक 750 मरीजों की जांच की जा चुकी है, जिसमें से 20 लोगों में टीबी के लक्षण पाए गए। इनमें 8 लोगों की अन्य जरूरी जांच कराकर उनका इलाज शुरू कर दिया गया है, बाकि बचे लोगों का इलाज कुछ और जरूरी जांच कराकर शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले में 121 टीमें घर घर जाकर टीबी मरीजों को खोजने का काम कर रही हैं। प्रत्येक टीम में 3 सदस्य हैं और हर 5 टीम पर एक सुपरवाइजर बनाया गया है। इस तरह 24 सुपरवाइजरों को तैनात किया गया है। ताकि सभी टीमों के कार्यों पर नजर रखी जा सके और अभियान को सफल बनाया जा सके। 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. पीएस मिश्रा ने बताया टीबी से जिले को मुक्त करने के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत है। इस बीमारी के प्रति जागरूकता बढ़े, इसके लिए सामाजिक संगठन भी आगे आ रहे हैं। उन्होंने कहा आज भी लोगों में जागरूकता की कमी है। यदि टीबी की पहचान शुरुआती दिनों में हो जाए तो मरीज छह महीने दवा खाने से स्वस्थ हो जाता है। उन्होंने कहा कि टीबी को जड़ से खत्म करने के लिए सरकार द्वारा मिलने वाली सुविधाओं के प्रति भी लोगों को विभाग द्वारा जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया सरकार की ओर से टीबी मरीजों का मुफ्त इलाज तो किया ही जाता है साथ ही उन्हें हर महीने 500 रूपये पोषण भत्ते के रूप में दिये जाते हैं ताकि मरीज पौष्टिक आहार का सेवन कर जल्द दुरुस्त हो जाए। 500 रूपये मरीज के खाते में सीधे भेजे जाते हैं।