ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
खिवाई में आग लगने से लाखों की नगदी व कीमती सामान जलकर हुआ राख
May 6, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • सरधना

 

अहमद हुसैन 


कस्बे में गैस सिलेंडरों के फटने से मकान हुआ मलबे के ढेर में तब्दील
आग बुझाने का प्रयास  आधा दर्जन लोग हुए घायल 
सरधना (मेरठ) दूध गर्म करते समय रसोई में अचानक लगी आग ने कुछ ही देर ने विकराल रूप धारण कर लिया जिसके बाद परिजनों ने घर से बाहर भाग कर जान बचाई। कस्बे के सैकड़ों लोगों ने आकर आग पर काबू पाने का प्रयास किया। इस दौरान गैस के दो सिलेंडर फटे तो उन्होंने घर को मलबे के ढेर में तब्दील कर दिया। आग ने घर में रखा सब कुछ जला कर राख में बदल दिया। आग बुझाते समय कस्बे के कई लोग भी झुलस गए गनीमत रहेगी परिवार के सभी सदस्य सकुशल घर के बाहर निकाल लिए गए। सूचना से एक घंटा देरी से पहुंची फायर ब्रिगेड ने उड़ते हुए धुए को पानी की बौछार कर शांत किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की जानकारी ली।
थाना सरूरपुर क्षेत्र के क़स्बा खिवाई में बड़ी मस्जिद के पास लियाकत का परिवार रहता है। लियाकत के मकान के ऊपरी हिस्से पर एक कमरे में उसका पुत्र आकिल अपनी पत्नी समरजहां व छह बच्चों के साथ रहता था। दूसरे कमरे में छोटा बेटा आबिद अपनी पत्नी शाहजहां व चार बच्चों के साथ रहता था। मकान के निचले हिस्से में साजिद अपनी पत्नी शाहना व छह बच्चों के साथ इस्लाम अपनी मां फूदी के साथ रहता था। बुद्धवार की दोपहर लगभग 12 बजे आकिल की पत्नी समरजहां दूध गर्म करने के लिए रसोई में गई थी। उसी समय अचानक वहां आग लग गई आग की लपटे उठती देख समरजहां डर गई और रसोई से बाहर निकल आई कुछ ही देर में आग की लपटे रसोई के बाहर निकलती दिखाई दी तो समरजहां व उसकी दौरानी शाहजहाँ अपने सभी बच्चो को लेकर मकान के निचले भाग में आगई और शोर मचा दिया। जिसके बाद घर परिवार व आसपास के लोगों ने आग पर काबू पाने का प्रयास किया। आग का विकराल रूप देख परिवार के सभी लोग घर के बाहर निकल आए। कस्बे के सैकड़ो लोग उधर दौड़े सभी ने मिलकर आग पर काबू पाने का प्रयास किया इस बीच रसोई में रखे गैस के दो सिलेंडर आग लगने के कारण फट गए। उनके धमाके से मकान की छत उड़ने के साथ ही दीवारे भी गिर गयी धमाके से पूरा इलाका दहल गया। इस दौरान आग पर काबू पाने का प्रयास करने वाले नसरत पुत्र अल्ताफ नदीम पुत्र ताहिर नसों पुत्र रहमत आसू पुत्र जमशेद सहित आधा दर्जन लोग घायल हो गए जिनका उपचार स्थानीय चिकित्सकों के यहाँ कराया गया। सूचना से एक घंटा देरी से पहुंची फायर ब्रिगेड ने वहां उठ रहे धुंए को शांत किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जानकारी ली। बताया गया कि घर में इस्लाम की शादी की तैयारियां चल रही थो। घर के अंदर चार लाख की नगदी सोने चांदी के जेवर व लाखों की कीमत का सामान जलकर राख हो गया।   लगी आग ने लियाकत के घर को मलबे के ढेर में बदल दिया जिससे उसका परिवार सड़क पर आगया है। 
-------
अहमद हुसैन
True story