ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
लड़कियो को बताया क्या होता है गुड टच-बेड टच
October 11, 2019 • RAVITA DHANGE

 

 

 

मुजफ्फरनगर। जिला अधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने किशोरी दिवस के अवसर पर किशोरियों को आयरन की गोली, घी एवं पुष्टाहार का वितरण किया। साथ ही बालिका क्रीड़ा प्रतियोगिता का भी शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि किशोरियों के लिए जितना जरूरी खान-पान पर ध्यान देना है उतना ही जरूरी खेल कूद भी है। खेल कूद से किशोरियों के शरीर का विकास होता है और खान-पान से शरीर स्वस्थ तथा मजबूत होता है। इस दौरान किशोरियों को आयरन की कमी से होने वाली बीमारियों के बारे में भी अवगत कराया गया।इस दौरान बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना पर नाटक का मंचन किया गया। किशोरियों को गुड टच, बेड टच के बारे में जागरूक किया गया।

 मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर अमिता गर्ग ने किशोरी बालिकाओं को पोषण पूरक आहार, एनीमिया, वृद्धि निगरानी, आहार शिक्षा और स्वच्छता जैसे अहम विषयों पर जागरूक किया। बालिकाओं से परिपक्व उम्र में शादी करने जैसे मुद्दों पर भी विस्तृत चर्चा की गयी। इस दौरान 11 से 14 वर्ष तक की किशोरी बालिकाओं का वजन, ऊंचाई की माप की गई। किशोरी बालिकाओं को बताया गया कि आयरन की टेबलेट दूध व चाय के साथ न ली जाए। इसे नींबू के पानी के साथ लेना ठीक रहता है। भोजन में मेथी, पालक, बथुआ, सरसों, गुड़ आदि की मात्रा बढ़ाये जाने पर जोर दिया गया। इसके अलावा अंकुरित दालों को हरी पत्तेदार सब्जियों के साथ पकाकर खाने की सलाह दी गयी। 

 उन्होंने कहा किशोरियों व महिलाओं के स्वास्थ्य के प्रति सरकार बेहद चिंतित व गंभीर हैं। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को सुपोषण व स्वच्छता पर विषेष ध्यान देना चाहिए, जिससे हम कुपोषण को दूर भगा सकते हैं। उन्होंने कहा 19 वर्ष तक किशोरियों के शरीर में जो बदलाव आते है वह प्राकृतिक हैं उससे वह घबराएं नहीं। स्वच्छता, टीकाकरण व हाइजीन पर विशेष ध्यान दें। इस दौरान बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना पर नाटक का मंचन किया गया। किशोरियों को गुड टच, बेड टच के बारे में जागरूक किया गया