ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
लेफ्टिनेंट कर्नल रोहिताश कुमार को शोभित विश्वविद्यालय से प्रबंधन  शास्त्र में पीएच.डी. की उपाधि  
February 9, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • राज्य



 Sanjay varma
लेफ्टिनेंट कर्नल रोहिताश कुमार को " स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के कर्मचारियों के बीच व्यावसायिक तनाव और उसके प्रबंधन का विश्लेषण - मेरठ मंडल में सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के अस्पतालों का एक अध्ययन " विषय पर किए गए सफल शोध कार्य के आधार पर शोभित विश्वविद्यालय, मेरठ द्वारा प्रबंधन  शास्त्र में पीएच.डी. की उपाधि   प्रदान की गई है। श्री रोहिताश ने डॉ अशोक कुमार, प्रोफेसर, प्रबंधन विभाग, शोभित विश्वविद्यालय, मेरठ के निर्देशन में अपना शोध कार्य पूर्ण किया।
शोध में पाया गया कि स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के कर्मचारियों में व्यवसायिक तनाव के कारणों में सबसे महत्वपूर्ण - कार्यस्थल पर पर्याप्त आपसी सहयोग ना होना तथा स्वतंत्र रूप से कर्मचारी की क्षमता और अनुभव का उपयोग  न कर पाना है। कर्मचारियों की अपर्याप्त संख्या , चिकित्सा नैदानिक उपकरणों की कमी एवं 8 घंटे से अधिक समय की ड्यूटी  भी तनाव का खास कारण है। शोध में यह भी पाया गया है कि व्यवसायिक तनाव काम की गुणवत्ता, कर्मचारी की उत्पादकता और प्रभावशीलता को भी कम करता है ।व्यवसायिक तनाव के उपचारात्मक तरीकों, तकनीको व प्रबंध करने की रणनीतियों में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण अच्छा वेतन, उदार अवकाश, कर्मचारियों की पेशेवर क्षमता व ज्ञान में वृद्धि तथा चिकित्सा उपकरणों का उच्च मानक का होना पाया गया है ।
श्री रोहिताश कुमार द्वारा किए गए शोध कार्य से आने वाले समय में स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र को बढ़ावा देने और भारत सरकार द्वारा लागू की जाने वाली नई योजनाओं को बनाने में मदद मिलेगी।
विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अमर प्रकाश गर्ग, प्रति कुलपति मेजर जनरल डॉo सुनील चंद्रा तथा प्रबंधन शिक्षा विभाग के डीन प्रोफेसर विशाल विश्नोई ने श्री रोहिताश कुमार को इस सफल शैक्षणिक उपलब्धि के लिए बधाई दी