ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
महाराष्ट्र से आया युवक पुलिस को देखकर छत से कूदकर फ़रार हुआ,पुलिस ने होम क्वारन्टीन का नोटिस चस्पा किया
April 18, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • मुज़फ्फरनगर


नईम चौधरी
मीरापुर।महाराष्ट्र में रहकर नोकरी करने वाले युवक के रात्रि में घर आने की सूचना पर पहुँची जाँच के लिए पुलिस को देखकर युवक छत से कूदकर फरार हो गया।पुलिस ने युवक के सुबह तक भी वापिस नही आने पर उसके घर होम क्वारन्टीन का नोटिस चस्पा कर दिया।
 मीरापुर के मोहल्ला दरबार निवासी युवक अम्मान पुत्र अहसान(20 वर्ष) महाराष्ट्र के नासिक में रहकर मीरापुर के एक फल सब्जी व्यापारी के यहाँ नौकरी करता है।तथा काफी दिनों से वही रह रहा था।गुरुवार की रात्रि उक्त युवक उक्त सब्जी व्यापारी की टमाटर की गाड़ी में बैठकर मीरापुर अपने घर आ गया।युवक अम्मान के महाराष्ट्र से  घर पहुँचने की सूचना किसी ने पुलिस को दे दी।जिस पर युवक की जांच कराने के लिए मीरापुर पुलिस उसके घर पहुँच गई।किन्तु घर पर पुलिस को देखते ही युवक के होश उड़ गए और युवक अम्मान पुलिस को देखकर बिना जाँच कराए छत से सड़क के दूसरी ओर कूदकर वहाँ से फरार हो गया।परिजन कुछ समय तक पुलिस को भ्रमित करते रहे।किन्तु जब काफी देर हो गयी तो पुलिस को एक पड़ोसी ने युवक के छत से कूदकर भागने की बात बताई।जिस पर पुलिस सवेरे युवक को थाने भेजने की बात कहकर वापिस लौट आई।किन्तु जब युवक सुबह भी थाने नही पहुँचा तो पुलिस पुनः युवक के घर पहुँची और युवक 14 दिन तक घर मे ही होम क्वारन्टीन होने का नोटिस चस्पा कर आई।किन्तु परिजनों ने पुलिस को बताया कि युवक तो रात्रि में ही महाराष्ट्र वापिस चला गया।इसके बावजूद भी पुलिस नोटिस चस्पा कर वापिस लौट आई।कस्बा इंचार्ज जितेन्द्र शर्मा ने बताया ही युवक के अन्य प्रदेश से आने की सूचना मिली थी जिस पर पुलिस वहाँ पहुँची थी।किन्तु युवक छत के रास्ते भाग निकला।फिलहाल नोटिस चस्पा कर दिया गया है।अगर युवक आता है तो उसे 14 दिन के लिए घर के अन्दर क्वारन्टीन रहना होगा।
*नईम चौधरी*
*मीरापुर।*  महाराष्ट्र में कार्य करने वाले दो मुस्लिम युवकों के लगातार सात दिन पैदल चलकर महाराष्ट्र से मीरापुर अपने घर पहुँचने पर पुलिस ने दोनों युवकों की थर्मल स्केनिंग कराकर दोनों को 14 दिन के लिए होम क्वारन्टीन कराया।
 मीरापुर कस्बे के मोहल्ला कोटला निवासी दो युवक नौशाद सैफ़ी पुत्र इस्लामुद्दीन व नौशाद मलिक पुत्र आस मो0 मलिक काफी समय से महाराष्ट्र के संगमनेर में रहकर इलेक्ट्रॉनिक सामान की फेरी लगाने का कार्य करते है।कोरोना वायरस की महामारी के चलते पूरे देश मे लॉक डाउन हो जाने के कारण दोनों युवकों को आर्थिक दिक्कत सामने आने लगी।जिस पर दोनों युवकों ने पैदल ही घर आने का निर्णय ले लिया और 10 अप्रैल को दोनों महाराष्ट्र से पैदल मीरापुर के लिए चल दिए।इस दौरान दोनों को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ा।हजारों किलोमीटर के लम्बे सफर को पैदल तय करने के बाद शुक्रवार को दोनों युवक मीरापुर अपने आवास पर पहुँचे।तो परिजनों में खुशी की लहर दौड़ गयी। युवकों के परिजनों ने पहले दोनों युवकों अच्छी तरह सेनेटाइज किया फिर नहलाया और फिर बाद में युवकों के परिजनों ने पुलिस को दोनों युवकों के महाराष्ट्र से आने की सूचना पुलिस को दी।जिसकी सूचना पर पुलिस दोनों युवकों के पास पहुँची और परिजनों के साथ दोनों की थर्मल स्कैनिंग जानसठ सीएचसी पर कराई।जांच में स्वस्थ पाए जाने के बाद भी पुलिस ने दोनों युवकों को 14 दिन के लिए होम क्वारन्टीन कर दिया।