ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
मनुष्य जब परेशान होता है तो भगवान के दरबार में जाता है,लेकिन जब मंदिरों के ही दरवाजे बंद हो गए तब मनुष्य कहां जाए : अनुज
April 2, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • मुज़फ्फरनगर

अर्जुन पंवार

चिकित्सक व वरिष्ठ पत्रकार डॉ अनुज अग्रवाल  का कहना है भारत  देवी-देवताओं और पीर पैगंबरो को मानने वालो का देश है ,भारत  भगवान महावीर  परम कृष्ण हंस  ,मोहम्मद साहब, भगवान  श्री राम का देश है। हमने प्रकृति के साथ छेड़छाड़ की है और ईश्वर की शान में कुछ ना कुछ गुस्ताखी अवश्य की है यही कारण है कि आज मंदिर मस्जिद गुरुद्वारे  सभी के दरवाजे बंद है। यह सभी पूजा इबादत करने के स्थान हैं ।लेकिन इनके दरवाजे बंद होने के बाद मनुष्य   अब परेशान है कयोकि मनुष्य जब परेशान होता है तो भगवान के दरबार में जाता है। लेकिन जब मंदिरों के ही दरवाजे बंद हो गए तब मनुष्य कहां जाए ।मंदिरों में केवल पुजारी आरती कर रहे है और मस्जिदों में मौलवी ही आजान दे रहे हैं ।आज मनुष्य घरों में कैद है और पशु पक्षी आजाद है गौर करने की बात है यह बिमारी किसी आपदा से कम नहीं है मनुष्य को अपने आचार विचार सुधारने होंगे ईश्वर को सच्चे मन से याद करना होगा हरिद्वार में हर की पैड़ी पर गंगा स्नान करने वाला  कोई नहीं है ।शाकंभरीस्नान मां के कपाट बंद है नवरात्रों में कोई दर्शन करने वाला नहीं है सैकड़ों वर्षों से शाहपुर में आज से रामनवमी  से चतुर्दशी तक का मा गोकुला देवी का मेला लगता था ।कोरोनावायरस के चलते  वह नहीं लगा मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की शोभायात्रा भी आज दो अप्रैल को नहीं निकलीभ जियो और जीने दो का संदेश देने वाले भगवान महावीर की जयंती पर भी इस बार कोरोनावायरस के चलते शोभायात्रा नहीं निकलेगी। इसे आप कहां तक अच्छा मानते हैं ईश्वर को भूल कर हम सब कुछ अपने आप को ही समझने लगे हैं यह सब उसी का परिणाम है मेरा नगर व देहात क्षेत्र की जनता से निवेदन है कि इस वैश्विक आपदा में सभी एक दूसरे का सहयोग करें घरों में रहे सुरक्षित रहे।