ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
नायब तहसीलदार व कई अन्य सभासद भी आये थे कोरोना संक्रमितों के सम्पर्क में।महिला सभासद व लेखपाल के साथ नायाब तहसीलदार भी पहुँचे थे खाद्य सामग्री वितरित करने।महिला सभासद ने एक सभासद पति व नगर पंचायत कर्मचारी की अपने साथ मस्जिद के अन्दर जाने की वीडियो भी वायरल की
April 28, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • मुज़फ्फरनगर

 

नईम चौधरी

मीरापुर। कस्बे के मोहल्ला मुश्तर्क की इमलियान मस्जिद में क्वारन्टीन किये गए जमातियों में शामिल तीनों संक्रमित करीब डेढ़ माह से यहाँ रुके थे।और इस दौरान तीनों संक्रमित महिला सभासद व मीरापुर के लेखपाल के अलावा नायाब तहसीलदार व कई अन्य सभासदों के संपर्क में भी आये थे।वही पुलिस द्वारा क्वारन्टीन की गई महिला सभासद ने कई सभासदों के भी अपने संपर्क में आने का दावा किया है।तीन दिन पूर्व मीरापुर में कोरोना संक्रमित मिलने से हड़कम्प मचा हुआ है।इमलियान मस्जिद में क्वारन्टीन किये गए जमातियों में तीन की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पुलिस ने इनके संपर्क में आने वाली महिला सभासद सन्तोष देवी व मदरसा इस्लामिया जामिया के मौलाना अरशद क़ासमी समेत करीब 9 लोगों को होम क्वारन्टीन कर दिया है।महिला सभासद सन्तोष मीरापुर लेखपाल राजीव लोचन के साथ कोरोना पॉजिटिव पाए गए तीनों संक्रमितों को राशन वितरित करने इमलियान मस्जिद गयी थी।किन्तु सोमवार को एक नया खुलासा उस समय हुआ जब महिला सभासद सन्तोष देवी ने फोन कर पत्रकारों को सूचना दी कि राशन वितरित करते समय उनके व लेखपाल के साथ नायाब तहसीलदार भी मौजूद थे।ये खुलासा एक भयावह सन्देश जाहिर कर रहा है। क्योंकि जिन तीन जमातियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।वे अन्य जमातियों के साथ पिछले करीब डेढ़ माह(7 मार्च)से मीरापुर में रुके हुए थे।तथा क़स्बे के दर्जनों लोगों के संपर्क में भी रहे है।कि पुलिस ने केवल महिला सभासद व मदरसे में रह रहे लोगों को होम क्वारन्टीन किया है।जबकि हल्का लेखपाल व नायाब तहसीलदार प्रतिदिन  लोगों के साथ साथ अधिकारियों से भी मिलते है।किन्तु इन्हें क्वारन्टीन नही किया गया है।जो कि बड़ी अनहोनी का सबब बन सकता है।वही महिला सभासद सन्तोष देवी ने यह भी दावा किया कि उनके साथ मस्जिद में एक सभासद पति व नगर पंचायत कर्मचारी भी कई बार गए। महिला सभासद ने अन्य सभासद पति की मस्जिद के अन्दर मोजूदगी की एक वीडियो भी वायरल की है।सभासद कई लोगो से लगातार उनके सम्पर्क में रहे है।यदि महिला सभासद की बात में जरा सी भी सत्यता है।तो इनके संपर्क में आने वाले सभी लोगों को जांच के बाद क्वारन्टीन किया जाना आवश्यक है।अन्यथा परिणाम गम्भीर हो सकते है कस्बा इंचार्ज जितेन्द्र शर्मा ने बताया कि मस्जिद में रखें गए जमाति किस किस के सम्पर्क में आये इसकी जानकारी की जा रही है।