ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
नवम्बर माह में भी बनेंगे आयुष्मान भारत योजना  के गोल्डन कार्ड
November 3, 2019 • TRUE स्टोरी टीम


 मेरठ ।{RAVITA}मंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत योजना) के तहत गोल्डन कार्ड बनाने की अवधि शासन की ओर से बढ़ा दी गयी है। अब नवम्बर माह के अंत तक गोल्डन कार्ड बनाये जाएंगे। इसके लिये चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव देवेश चतुर्वेदी ने चिह्नित परिवारों के कम से कम एक सदस्य का गोल्डन कार्ड बनाने का निर्देश जारी किया है। इससे उन लोगों को लाभ मिलेगा जो गोल्डन कार्ड न बनने से परेशान हो रहे थे।
 अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व नोडल अधिकारी डा. पूजा शर्मा ने बताया सभी लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बनाये जाने हैं। विभाग का प्रयास है कि नवम्बर महीने के अंत तक सभी के गोल्डन कार्ड बन जाएं। योजना की हर सप्ताह समीक्षा की जाएगी। उन्होंने बताया प्रमुख सचिव की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि समीक्षा के दौरान बहुत से ऐसे गांव पाये गये हैं जहां एक भी लाभार्थी परिवार का गोल्डन कार्ड नहीं बना है। ऐसे गांव व परिवार का डाटा जनपद के सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को भेज दिया गया है। इसके लिये जिला स्तर पर योजना बनाकर गांवों में वार्ड स्तर पर शिविर लगाकर गोल्डन कार्ड बनाये जा रहे हैं।
  आयुष्मान भारत योजना के जिला समन्वयक जितेन्द्र कुमार ने बताया जिले में अब तक 6  लाख परिवार लक्षित हैं। जिले में अब तक 97000 गोल्डन कार्ड बनाये जा चुके हैं। 26000 लोग इस योजना से लाभान्वित हो चुके हैं। इस वर्ष 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक आयुष्मान पखवाड़े के दौरान 42000 गोल्डन कार्ड बनाये जा चुके हैं। इसके लिये जिला अस्पताल सहित जिले के सभी सामुदायिक केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर तैनात आयुष्मान मित्रों तथा इससे संबधित अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा किये जा रहे कार्यों की बराबर विभाग के अधिकारियों द्वारा लगातार समीक्षा की जा रही है । उम्मीद जताई जा रही है कि नवम्बर के अंत तक बचे हुए लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड विभाग की ओर से बना दिये जाएंगे।