ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत
परखनली के द्वारा संतानोत्पत्ति करना हुआ आसान :डॉक्टर अनुष्का
February 22, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • सरधना

 

अहमद हुसैन

धार्मिक ग्रंथों में उल्लेख है 'नर सेवा नारायण सेवा' इस सेवा को कौन किस रूप में करता है .यह विषय अलग है सरधना नगर में ऐसे ही सेवा का केंद्र बना है      ..हिमालय नर्सिंग होम .....जहां आज के समय में सेवार्थ,सभी प्रकार की बीमारियों का इलाज कम दामों पर तथा निशुल्क किया जा रहा है चाहे रोग हड्डी का हो चाहे आंख का या कोई और सभी प्रकार के चिकित्सक आज हिमालय नर्सिंग होम में मौजूद है जहां आज के समय में सभी प्रकार की बीमारियों का इलाज  इलाज कम दामों पर और निशुल्क किया जा रहा है चाहे रोग आंख नाक कान से जुड़ा हो हड्डी का हो या अन्य और कोई बीमारी सभी प्रकार के चिकित्सक आज हिमालय नर्सिंग होम में अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं लो इनी सेवाओं में एक सबसे बड़ी निशुल्क सेवा निसंतान दंपतियों के इलाज की भी शुरू की गई है जिसमें ,विरिंदा फर्टिलिटी, हॉस्पिटल नोएडा से आई डॉक्टर अनुष्का, अपनी सेवाएं दे रही हैं जिन्होंने आज कैम्प के द्वारा लगभग 82 महिलाओं का परीक्षण कर उन्हें परामर्श दिया इसी कैंप के दौरान डॉ अनुष्का ने आईवीएफ पद्धति के बारे में विस्तार से बताया उन्होंने बताया की शादी के बहुत दिनों बाद तक भी जब दंपत्ति निसंतान रहते हैं. इस पद्धति के द्वारा उनको संतान की उत्पत्ति हो सकती है जिसको आईवीएफ का जाता है यानी ट्यूब द्वारा संतान पैदा करना,आईवीएफ यानी ,इन विट्रो फर्टिलाइजेशन, गर्भधारण करवाने की एक कृत्रिम प्रक्रिया है। आईवीएफ की प्रक्रिया से जन्म लिए बच्चे को टेस्ट ट्यूब बेबी (परखनली शिशु) भी कहा जाता है। यह तकनीक उन महिलाओं के लिए विकसित की गई है, जो किन्हीं कारणवश गर्भधारण नहीं कर पाती हैं। यही कारण है कि आईवीएफ के केंद्र लगातार खुल रहे हैं और लोग इस प्रक्रिया का फायदा उठा पा रहे हैं। वरदा फर्टिलिटी सेंटर नोएडा द्वारा अब तक सैकड़ों निसंतान दंपत्ति संतान का सुख उठा चुके हैं अनुष्का ने आगे बताया कि महिलाओं में जब ट्यूब बंद,हो अनियमित पीरियड, या गर्भाशय में रसौली, तो गर्भधारण नहीं कर पाती तथा पुरुषों में अगर काम शुक्राणु,धीमी गति शीलता, निल शुक्राणु, या खराब गुणवत्ता, हो तो गर्भधारण नहीं हो सकता लेकिन अब परखनली के द्वारा संतान पैदा करना बहुत बड़ा काम नहीं रहा इस अवसर पर डॉक्टर ओंकार पुंडीर ने बताया कि हमारी हॉस्पिटल में भारत सरकार द्वारा जारी आयुष्मान कार्ड के द्वारा हड्डी आंख नाक कान तथा किसी भी प्रकार के ऑपरेशन की सुविधा है। डॉक्टर संगीता पुंडीर, चौधरी देवेंद्र, ज्योति, अर्चना, सना,कोमल कश्यप आदि ने कैम्प में अपना सहयोग दिया
-------
अहमद हुसैन
True story