ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
पूरे मीरापुर को सील किये जाने सूचना से लोगों में हड़कम्प मचा।क़स्बे के मुख्य बाजार व गली-मोहल्लों के बाहर जरूरी सामान की होम डिलिवरी वालों की लिस्ट लगाए जाने से हड़कंप मचा।लिस्ट देखते ही बाजारों में उमड़ी भीड़।
April 28, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • मुज़फ्फरनगर


नईम चौधरी
मीरापुर। कस्बे के मोहल्ला मुश्तर्क की इमलियान मस्जिद वाली गली को कोरोना संक्रमितों के मिलने के बाद सील किये जाने के बाद प्रशासन के निर्देश पर नगर पंचायत द्वारा क़स्बे के सभी मुख्य  बाजारों व गली-मोहल्लों के नुक्कड़ पर आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी करने वालों की लिस्ट लगाई गई। लिस्ट लगते ही क़स्बे के लोगों ने पूरे मीरापुर को सील किये जाने का अनुमान लगाया तथा कुछ ही देर में पूरा कस्बा सील होने की सूचना फैलने के बाद लोगों में हड़कम्प मच गया।तथा भारी संख्या में लोगों की भीड़ बाज़ार में खाने-पीने के सामान की खरीदारी करने पहुँच गयी।पूरे दिन मीरापुर को सील किए जाने की चर्चा लोग करते रहे।
मीरापुर की इमलियान मस्जिद में ठहरी जमात में शामिल तीन लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन में हड़कम्प मच गया था जिसके बाद पुलिस-प्रशासन ने मीरापुर क़स्बे के मोहल्ला मुश्तर्क की उस गली को पूरी तरह सील कर दिया था जिसमें इमलियान मस्जिद है।इस गली के सभी मार्गो को पुलिस ने बल्लियों की बेरिकेडिंग कर सील कर सभी रास्तों से बाहरी लोगों व स्थानीय लोगों का प्रवेश व बाहर निकलना वर्जित कर रखा है।वही क़स्बे का शेष बाज़ार व अन्य गली मोहल्ले प्रतिदिन की भांति खुले छोड़े गए है । सोमवार की सुबह प्रशासन के निर्देश पर नगर पंचायत कर्मचारियों ने क़स्बे के सभी मुख्य बाजारों व गली मोहल्लों के नुक्कड़ पर दूध,सब्जी व राशन की होम डिलीवरी करने वाले लोगों की लिस्ट दर्जनों स्थानों पर चस्पा कर दी।लिस्ट को पढ़ने के बाद लोगों ने पूरे मीरापुर को सील किये जाने का अनुमान लगाते हुए एक दूसरे को सूचना प्रेषित कर दी जिसके चलते कुछ ही देर में पूरे मीरापुर को सील किये जाने की सूचना से नगरवासियों में हड़कम्प मच गया। तरह तरह की अफवाहें उड़ने लगी।जिसके बाद बाजारों में जरूरी सामान की खरीदारी के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी।तथा बाजार बंद होने के समय से पूर्व ही बाज़ार में दुकानों पर सामान लेने के लिए लोगों के बीच  मारामारी मची रही।देर शाम तक भी पूरे क़स्बे को सील किये जाने को लेकर लोग फोन पर तरह तरह की चर्चा करते रहे।