ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
सखी-सहेली को दिया प्रशिक्षण
January 3, 2020 • TRUE स्टोरी टीम

(संजय वर्मा)

मेरठ। जनपद के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र माछरा में वीरांगना दल की सखी-सहेली को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के लिए तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
प्रशिक्षण के दौरान पहले दिन किशोरियों को साफ सफाई, थाना,  रेलवे, बैंक, कानूनी अधिकार तथा व्यक्तिगत कौशल का प्रशिक्षण दिया गया। दूसरे दिन किशेारियों को शिक्षा का महत्व बताने के साथ स्वयं को स्वाबलंबी बनने की प्रेरणा दी गयी। प्रशिक्षण के अंतिम दिन प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डा. आलोक ने उन्हें आयरन की गोली का महत्व और उसके लाभ के बारे में बताया। उन्हें बताया गया कि गोली का सेवन किस प्रकार से करना चाहिए। इस दौरान किशोरियों को समाज के प्रति जागरूक किया गया। किशोरियों को सेनेटरी नैपकिन तथा आयरन की गोली, पौष्टिक आहार एवं मानदेय का वितरण किया गया। इस मौके पर डा. आलोक नानक, डा. नरेन्द्र, बाल विकास परियाजना अधिकारी रामसेवक, मुख्य सेविका शशी वर्मा, कमलेश सिंह, छवि श्रीवास्तव, अंशू त्यागी आदि मौजूद रहे। 
 जिला कार्यक्रम अधिकारी विनीत कुमार ने बताया बाल विकास परियोजना के अंतर्गत चल रही योजना (एडोलेसेंट गर्ल्स स्कीम) के तहत 11 से 14 साल की स्कूल न जाने वाली किशोरियों के 10 वीरागंना दल गठित किये गये हैं। एक दल में एक सखी व दो सहेली का चयन किया गया है। कुल 30 चयनित सखी सहेली को प्रशिक्षण दिया गया। योजना के तहत स्कूल छोड़ चुकी किशोरियों को मुख्यधारा में लाकर वापस स्कूल लाया जाएगा। इन्हें ब्रिज कोर्स के लिए प्रेरित किया जाएगा। कौशल विकास मिशन से भी जोड़ा जाएगा। ताकि किशोरियां शिक्षित और सशक्त बन सकें। किशोरियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए उनके लिए पौष्टिक आहार की भी व्यवस्था की गयी है। इन्हें हर माह नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूट्रीशिया के मानक के अनुरूप पोषाहार दिया जाएगा।