ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत
शादी करने पर युवती को सिरफिरे ने दी जान से मारने की धमकी
February 25, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • सरधना

 

अहमद हुसैन

 सरफिरे आशिक ने कहीं और शादी करने पर युवती व उसके होने वाले पति को जान से मारने की धमकी दी है ।युवती की बारात आज आनी है जिससे भयभीत उसके परिजनों ने पुलिस से मिलकर आपबीती सुनाई और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग के साथ सुरक्षा की गुहार लगाई है। पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए सुरक्षा का आश्वासन दिया है। 
गांव पोहल्ली  निवासी प्रदीप पुत्र स्वर्गीय विजयपाल ने बताया कि उसकी बहन गीता की शादी राजेश पुत्र स्वर्गीय रतन लाल निवासी ग्राम कक्केपुर थाना सरूरपुर खुर्द के साथ तय हुई थी। 25 फरवरी (आज) बारात आनी है। रतन सिंह पुत्र हुकम सिंह निवासी ग्राम मोहकमपुर थाना टीपी नगर ने मेरी बहन के ससुराल में फोन करके उन्हें गुमराह किया तथा कहा कि गीता के उसके अवैध संबंध है जिसके चलते गीता के होने वाले पति राजेश ने इस संबंध में उन्हें अवगत कराया और अपने घर बुलाया जिसके बाद भी राजेश विवाह करने के लिए के तैयार हो गया।  23 फरवरी को उसका पूरा परिवार गांव राजेश के गांव कक्केपुर गया हुआ था उसी समय रतन सिंह उनके घर पोहल्ली में आया था। रतन ने गीता व घर की औरतों के साथ मारपीट की और धमकी दी कि यदि गीता की शादी किसी और के साथ हुई तो गीता को जान से मार दूंगा। साथ ही गीता के होने वाले पति को भी नहीं छोडूंगा। गीता पर तेजाब डालकर उसकी जिंदगी खराब करने की धमकी के साथ ही उसकी आबरू लूटने का भी प्रयास किया गया। गीता और महिलाओं की चीख पुकार सुनकर लोगों को आता देख आरोपी रतन सिंह मौके से भाग गया जाते समय फिर से जान से मारने की धमकी देते हुए गया। प्रदीप ने बताया की इस घटना के बाद से उसका परिवार भयभीत है और 25 फरवरी (आज) गीता की शादी होनी है जिसके चलते उसने आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग के साथ सुरक्षा की गुहार भी लगाई है। बताया गया कि रतन सिंह एक चरित्रहीन व दबंग किस्म का व्यक्ति है जिसके खिलाफ थाना मवाना व अन्य  थानो में अपराधिक मामले पंजीकृत है। इस प्रकार की घटना पहले भी अपने चाचा की लड़की रजनी के साथ कर चुका है। आरोपी अपने पड़ोसी चंद्रभान के पुत्र पर तलवार द्वारा जान से मारने का हमला कर चुका है। पीड़ित ने उक्त आरोपी के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और सुरक्षा का आश्वासन दिया है। 
------------
अहमद हुसैन
   True story