ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत
शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले:  वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशा होगा
February 15, 2020 • TRUE स्टोरी टीम • सरधना


(अहमद हुसैन)

 जी हां वो शहीद। जो अपने देश की खातिर। जान कुर्बान कर रहे हैं। वह शहीद जो अपने देश की रक्षा के लिए सीमा पर तैनात हैं। वह शहीद जो अपने मासूम बच्चों को अपने परिजनों को छोड़कर देश की सीमाओं पर। रक्षा करने के लिए। तैनात हैं। ऐसे ही वीर जब। किसी हमले का शिकार होते हैं तो? देशवासियों के दिल पर क्या गुजरती है? यह बताना बड़ा मुश्किल है। इसका दर्द वही महसूस कर सकते हैं जो। देश की खातिर शहीद होने वालों के परिजन हैं उनके अपने हैं  14 फरवरी। 2019 को। पुलवामा में तैनात। उन नौजवानों की। शहादत को। कोई नहीं भूल सकता जो आतंकी हमले में। शहीद हो गए। और अपना नाम अमर कर दें। उन्हीं की याद में। आज स्कूल। प्रशासन एवं छात्र छात्राओं ने मोमबत्तियां जलाकर। उनको श्रद्धांजलि  
अर्पित की सरधना की ईदगाह रोड स्थित मजीदिया पब्लिक स्कूल मे पुलवामा में हुए आतंकी हमले में मारे गए सीआरपीएफ के जवानों तथा भारत को गुलामी की बेड़ियों से आजाद कराने में विशेष योगदान देने वाले वीर शहीदों भगत सिंह, सुखदेव, एवं राजगुरु, को मोमबत्ती जलाकर भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। वीर शहीदों को याद करते हुए स्कूल प्रबंधक(पूर्व प्रधान) जफर कुरेशी ने बताया कि आजकल आतंकवाद दिन प्रतिदिन फैलता जा रहा है जो हमारे देश को खोखला कर रहा है। इन आतंकी हमलों के कारण घर के घर बर्बाद हो जाते हैं और देश के जवान अपने प्राणों की परवाह  ना करते हुए देश की सीमा पर 24 घंटे तैनात रहते हैं। ताकि हम आराम से अपने अपने घरों में चैन की नींद सो सके। मैं सलाम करता हूं उन शहीदों को उन वीरों को जो देश की रक्षा में अपने प्राणों की आहुति देते रहे हैं। इस मौके पर स्कूल प्रधानाचार्य रूपा चौधरी ने भी अपने विचार रखते हुए कहा कि आज हमारे देश को गुलामी की जंजीर से आजाद हुए 70 साल गुजर गए लेकिन हम फिर भी आतंकवाद और आतंकवादी गतिविधियों से अपने आप को बचा नहीं पा रहे हैं आखिर क्या कारण है? हमारा देश भारत आज दुनिया के शीर्ष देशों में शामिल होता है  और आतंकवाद में भी। इस अवसर पर श्रीमती संगीता रानी, कुमारी निशा, कुमारी, आयशा, कुमारी साइमा, कुमारी लाइबा, इरम, प्रिया, कोमल, आदि उपस्थित रहे।
---------
अहमद हुसैन
True स्टोरी