ALL स्वास्थ्य मुज़फ्फरनगर शामली राज्य नेशनल अपराध सरधना आर्थिक जगत BULANDSHAHAR
थाना भ्रमण पर आए छात्र छात्राओं ने जानी पुलिसिंग
January 28, 2020 • TRUE स्टोरी टीम

(अहमद हुसैन)

भारत सरकार द्वारा संचालित ,,पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय मॉडल इंटर कॉलेज,, ग्राम कालन्द के छात्र छात्राओं ने किया सरधना थाने का भ्रम ण। थाना द्वारा होने वाले रोजमर्रा के कार्यों को छात्र छात्राओं ने बहुत ध्यानपूर्वक देखा और समझा। स्कूल में पढ़ने वाले नाइंथ टेंथ क्लास के छात्र छात्राओं को मात्र पुलिस के नाम से ही डर लगता है। सच्चे मन के सच्चे बच्चे सोचते हैं पुलिस ऐसी चीज का नाम है जो बहुत सख्त और  खराब होती है। लेकिन आज जब डर और संकोच के बीच बच्चे थाना परिसर पहुंचे तो वह सहमे हुए और संकुचित थे। लेकिन भ्रमण के बाद जब छात्र-छात्राएं थाना से बाहर आई तो उनके दिल में बसी सारी गलतफहमियां मानो बहुत दूर जा चुकी थी जिसका सबसे बड़ा कारण थाना पुलिस प्रभारी उपेंद्र मलिक द्वारा बच्चों के साथ किया गया उच्च स्तर का  व्यवहार। थाना प्रभारी उपेंद्र मलिक के चेहरे पर नरमी और मुस्कुराहट देखकर मानो सभी बच्चे अपने आप को थाना परिसर में नहीं बल्कि अपने निजी घर में महसूस कर रहे थे। छात्र छात्राओं के साथ आए विद्यालय के शिक्षक एवं नोडल अधिकारी जावेद अख्तर के नेतृत्व में पुलिसिंग की संपूर्ण जानकारी छात्र-छात्राओं ने ली। थाना प्रभारी ने सभी बच्चों को बताया के किसी प्रकार की मिली शिकायत पर किस तरह जांच की जाती है। उसके बाद एफ आई आर और विवेचना क्या होती है। इस पर विस्तृत चर्चा की। उन्होंने बताया के आज के समय में बच्चे खासतौर पर लड़कियां किस तरह साइबर क्राइम के अधिक शिकार हो रहे हैं उनसे बचने के लिए क्या क्या जरूरी है और किस तरह इस क्राइम से बचा जा सकता है। थाना प्रभारी ने सभी बच्चों से अत्यंत सरल भाषा में बात करते हुए समस्त जानकारी दी। इसके अलावा घरेलू अपराध, संगठित अपराध, और नशे में होने वाली वारदातों के समय। इनसे बचने के तरीके भी बताए थाने में मौजूद पुलिसकर्मी चंचल ठाकुर ने बालिकाओं को आत्मरक्षा के तरीके उनके अधिकार तथा आत्मरक्षा के सुझाव के साथ साथ उनके प्रति जागरूक किया बच्चों ने थाना प्रभारी के नेतृत्व में थाना हवालात और शस्त्रागार को बड़े ध्यान और उच्च उत्सुकता से देखा। भ्रमण के समय थाने पर पहुंचे फरियादियों का निस्तारण किस तरह किया जाता है यह भी सभी ने निहारा। उसके बाद थाना की ओर से सभी छात्र छात्राओं को जलपान भी कराया गया। छात्र छात्राओं के साथ आई कक्षा नौ की छात्रा  अलीशा ने बताया के जो पुलिस की छवि हमारे मन में थी आज वह समाप्त हो गई तथा लगता है कि जैसे पुलिस आम आदमी की सबसे अच्छी मित्र हो वही आलिया ने भी अपने विचार रखते हुए कहां के अपने भ्रमण में थाना पहुंचकर हमने सीखा के किस प्रकार से पुलिस अपना कार्य करती है। छात्रा शिवानी तथा सिमरन ने भी थाना भ्रमण के बाद  थाने में मौजूद पुलिसकर्मी नेहा तथा डिंपी से बातचीत की थाना प्रभारी कार्यालय में शिक्षक नेता दीपक शर्मा द्वारा केंद्र सरकार की इस व्यवस्था पर पूर्ण रूप से प्रकाश डाला।कॉलिज शिक्षक तथा नोडल अधिकारी जावेद अख्तर ने कहा इस प्रकार के कार्यक्रम शिक्षा के साथ साथ बहुत आवश्यक होते हैं इस तरह के कार्यक्रमों से बच्चों के ज्ञान की बढ़ोतरी होती है तथा वह वहीं से अपने भविष्य की डगर को तय करते हैं।  छात्र-छात्राओं में नरगिस प्रखर हेमंत हिमांशु रोहित शुभम कमल किशोर राजा आदि मौजूद रहे,,।

अहमद हुसैन
Trueस्टोरी